Election 2019: अब दागी नेताओं की आपराधिक कहानी छपेगी अखवारो में

0
35
अब दागी नेता दामन पर लगे दाग छिपा नहीं पाएंगे. चुनाव आयोग का मानना है कि इससे जनता उम्मीदवारों को और बेहतर तरीके से जान सकेगी और सही फैसला कर पाएगी. यही नहीं इन विज्ञापन को व्यापक सर्कुलेशन वाले अखबारों में ही देना होगा. यानी छोटे अखबारों में विज्ञापन देकर अब नेता जी बच नहीं पाएंगे. चीफ इलेक्शन कमिश्नर सुनील अरोड़ा ने बताया कि यह निर्देश सुप्रीम कोर्ट के सितंबर 2018 के संविधान पीठ के फैसले को ध्यान में रखते हुए दिया गया है.
चुनाव का मौसम है, तो नेताओं ने भी तैयारियां पूरी कर ली हैं. तारीखों के ऐलान के साथ इलेक्शन कमीशन ने उम्मीदवारों को कई हिदायतें भी दी हैं. इनमें से एक हिदायत बड़ी अहम थी, चुनाव आयोग ने कहा है कि अब उम्मीदवार अपने आपराधिक रिकॉर्ड के बारे में तीन बार अखबार में छपवाएं.
अभी तक आपने नेता जी को अखबारों में अपनी उपलब्धियां गिनाते हुए पढ़ा होगा, लेकिन अब आप उन्हें अपनी करतूतों का बखान करते भी देखेंगे. देखने वाली बात ये भी होगी कि कितने लोग चुनाव आयोग की इस हिदायत पर अमल करते हैं.
Share This On
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here