देश की जनता तय करेगी कि अगला प्रधानमंत्री कौन बनेगा : अखिलेश

0
20

लखनऊ- समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी सत्ता के लिए कोई भी झूठ बोलने को तैयार है। अखिलेश ने कहा कि देश की जनता ने बदलाव का मन बना लिया है। इस होली में देश का रंग बदलने वाला है। देश को नया प्रधानमंत्री मिलेगा। श्री यादव ने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि ढाई लोगों ने देश को बर्बाद कर दिया है। प्रधानमंत्री ने नोटबंदी, गंगा की सफाई, जीएसटी समेत तमाम मुद्दों पर जनता से झूठ बोला।

जीएसटी से छोटा व्यापारी बर्बाद हो गया। नोटबंदी से गरीब जनता लाइन में लगकर मर गई। प्रधानमंत्री और भाजपा आज नोटबंदी के फायदे क्यों नहीं बताती है। उन्होंने कहा कि सपा बसपा का गठबंधन बहुत मजबूत है। यह गठबंधन समाज और देश में परिवर्तन लाएगा। मैं इस गठबंधन हमेशा चलाऊंगा, उसके लिए कोई भी त्याग करने को तैयार हूं। यह विचारों का गठबंधन है। इस गठबंधन को जनता चाहती है। हमारा गठबंधन दलितों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों तथा गरीबों, किसानों के जीवन में बदलाव लाएगा। केंद्र सरकार द्वारा गरीब सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण दिए जाने के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि पहले तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आरक्षण को बहुत खराब बताते थे, कहते थे कि आरक्षण बहुत खराब है। अब 10 प्रतिशत आरक्षण दे दिया। हम चाहते हैं कि पूरे देश में लोगों की गिनती कर ली जाए और आबादी के अनुपात में हक और सम्मान दिया जाए।

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा खुद को चौकीदार लिखे जाने पर अखिलेश ने कहा कि अब तक चायवाला थे, अब चौकीदार हो गए हैं। अब चायवाले की पोस्ट खाली हो गई है, मैं सोचता हूं कि अब मैं अपने आप को चायवाला लिखूं, क्योंकि वैसे भी मैं तो पहले से ही दूधवाला हूं। मुख्यमंत्री रहने के दौरान प्रधानमंत्री आवास में मोदी के साथ चाय पीने के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि मैं उनकी बकवास चाय नहीं पी सकता। श्री यादव ने भाजपा के लोगों को घिसी पिटी बातें करने वाला बताते हुए कहा कि यह लोग देश और समाज में बदलाव नहीं ला सकते हैं, देश बहुत पीछे चला गया है। ये नया भारत नहीं बना सकते हैं। श्री यादव ने कहा कि बीजेपी सरकार में देश में नौजवानों को नौकरी नहीं मिली। 90 फीसदी नौजवान बेरोजगार हो गया। अब 5 साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद कह रहे हैं कि सब चौकीदार बन जाओ। यह सरकार अपने पूरे कार्यकाल उद्घाटन का उद्घाटन और शिलान्यास का शिलान्यास ही करती रही।

अभी तक कोई नया काम शुरू नहीं कर पाई। अभी तक योगी सरकार पुराने प्रस्ताव की ही कार्य कर रही है कोई नया प्रस्ताव अपनी तरफ से नहीं बना पाई है। मुख्यमंत्री कार्य करने के बजाय फिजूल की बातें करते हैं। कभी कहते हैं कि बंदर भगाने के लिए हनुमान चालीसा पढ़िए, तो कभी हनुमान जी की जाति बताने लगते हैं। उन्होंने कहा कि योगी ऐसे मुख्यमंत्री हैं जिन्हें कोई भी चीज की जानकारी नहीं है। उत्तर प्रदेश में सपा बसपा गठबंधन के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि गठबंधन राजनीतिक परिस्थितियों से तय होते हैं। आज देश जिन परिस्थितियों से गुजर रहा है। उसमें सपा बसपा गठबंधन सबसे विकल्प है। बसपा के साथ आने से भाजपा सरकार जल्दी चली जाएगी। नेताजी मुलायम सिंह यादव और मायावती में से किस पर सबसे ज्यादा भरोसा के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि मैं दोनों पर बराबर भरोसा करता हूं। चुनाव बाद देश में प्रधानमंत्री के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि देश की जनता तय करेगी कि कौन अगला प्रधानमंत्री बनेगा, लेकिन हम चाहते हैं कि अगला प्रधानमंत्री यूपी से बने।

मैं पीएम पद का दावेदार नहीं हूं, लेकिन प्रधानमंत्री चुनने में सहयोग करूंगा। चुनाव बाद हम गठबंधन के साथ बैठेंगे और तय करेंगे की प्रधानमंत्री कौन बनेगा। कांग्रेस को लेकर श्री यादव ने कहा कि कांग्रेस के लिए शिष्टाचार के तहत सपा बसपा गठबंधन ने 2 सीटे छोड़ी हैं। ऐसे में यह नहीं कहा जा सकता कि कांग्रेश हमारे गठबंधन में नहीं है। उन्होंने स्वीकार किया कि इधर राहुल गांधी से उनकी कोई बात नहीं हुई है। प्रियंका गांधी की राजनीति में आने के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि हम स्वागत करते हैं। नए लोगों को राजनीति में आना चाहिए। इससे भाजपा का सफाया करने में मदद मिलेगी। अखिलेश यादव ने कहा कि देश का किसान, नौजवान, बेरोजगार चुनाव का इंतजार कर रहा है कि मौका मिले और भाजपा को सत्ता से बाहर किया जाए। श्री यादव ने कहा कि भाजपा ने देश का बहुत नुकसान किया। नफरत फैलाने का काम किया है। देश नफरत से आगे नहीं बढ़ सकता है। अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी ने हमारे अच्छे कार्यों को भी बुरा बनाकर दुष्प्रचार किया। भाजपा ने हमारी योजनाओं एक्सप्रेस वे, मेट्रो रेल, लैपटॉप, और रिवर फ्रंट, का नकारात्मक प्रचार किया। खुद के चुनाव लड़ने की सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि वह लोकसभा चुनाव लड़ेंगे, लेकिन जनता तय करेगी कि कहां से चुनाव लड़ेंगे। श्री यादव ने कहा कि लोकसभा सीट अभी नहीं बताऊंगा हालांकि उन्होंने आजमगढ़ से चुनाव लड़ने के संकेत दिए।

मायावती के चुनाव लड़ने के सवाल पर अखिलेश यादव ने कहा कि वे सीनियर नेता हैं, अपनी पार्टी में तय करके फैसला करेंगी। शिवपाल यादव को लेकर एक सवाल के जवाब में अखिलेश ने कहा कि हमारे परिवार में लोकतंत्र है। किसी का विचार नहीं मिलता है, तो वह अपना रास्ता तय करने के लिए स्वतंत्र है। शिवपाल यादव की बीजेपी से मिले होने के सवाल पर अखिलेश ने कहा यह मैं नहीं कह रहा लेकिन भाजपा के एक नेता ने दिल्ली में कहा कि हमने उन्हें घर दिया है। और जब मेरा घर लिया जा रहा था, नेताजी का घर लिया गया, तो उन्हें नया घर दिया गया और वो भी जो सबसे खूबसूरत था। गठबंधन को लेकर एक सवाल के जवाब में अखिलेश यादव ने कहा कि हमारा तो दो-तीन दलों के साथ ही गठबंधन है। भाजपा के तो 30 दलों से ज्यादा पार्टियों से गठबंधन है, उसके अलावा बीजेपी का सीबीआई से भी बड़ा गठबंधन है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने सीबीआई का बहुत दुरुपयोग किया। कई नेताओं को डराया धमकाया। कांग्रेस के कई तो इसी दहशत में भाजपा में शामिल हो गए। श्री यादव ने कहा कि इस मामले में कांग्रेस भी कम नहीं है। सीबीआई के मामले में भाजपा और कांग्रेस एक जैसी ही हैं। इसीलिए हम कहते हैं कि जो भाजपा है, वही कांग्रेस है और जो कांग्रेस वही भाजपा है। डिंपल यादव के चुनाव लड़ने के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि डिंपल कन्नौज से सीटिंग सांसद हैं, उन्होंने कहा कि वह चुनाव लड़ेंगी, इसलिए पार्टी ने उन्हें टिकट देने का फैसला किया।  -अजय कुमार वर्मा (webvarta)

Share This On
loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here