16 C
Amroha, IN
Wednesday, March 20, 2019
 
Breaking News

प्रख्यात साहित्यकार, ओजकवि, बालकवि बैरागी का श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया

मृदुभाषी व मस्तमौला स्वभाव और सौम्य व्यक्तित्व के धनी बालकवि बैरागी  हिंदी कविता को मंच पर स्थापित करने में बैरागी की भूमिका अहम बिहारशरीफ संवाददाता संजय...

दिल को छू लेने वाली एक कहानी

  मैं एक दुकान में खरीददारी कर रहा था, तभी मैंने उसदुकान के कैशियर को एक ५-६ साल के लड़के से बात करते हुए देखा...

कविता: माँ का एहसास

-हेमा तिवारी भट्ट- मक्खन,पंख,रुई-सा कोमल, है माँ का एहसास। आक्सीजन वायु में जैसे, रिश्तों में वह खास। दो रोटी के चक्कर बाँटे, सबको मजबूरी, यों रहते सब आस पास में, फिर भी...

छोटी-छोटी 6 कहानियां

                ( 1 ) एक बार गाँव वालों ने यह निर्णय लिया कि बारिश के लिए ईश्वर से...

कविता- मैं कानून हूं

मैं भारत का कानून हूं पहले मेरी बात सुनो। गला फाड़ना बंद करो फिर मेरी फरियाद सुनो कैद पड़ा हूं दफ्तरों में, सांसें मजबूर हैं चलने को। चलता साथ उसी...

कहानीः पंचो का फैसला

कहानीः एक बार एक हंस और हंसिनी हरिद्वार के सुरम्य वातावरण से भटकते हुए, उजड़े वीरान और रेगिस्तान के इलाके में आ गये! हंसिनी ने...

व्यंग्य – कट्टरपंथी सोच

  -जाॅली अंकल- लंबें अरसे से विदेश में रह रहे चैधरी साहब को बार-बार अपने देश की याद सताती रहती थी लेकिन उन्होंने जब कभी भी...

कहानी- ईश्वर की माया – कहीं धूप, कहीं छाया

- इन्द्रेश सचदेवा,  सर्वे ऑफ़ इंडिया {भारतीय सर्वेक्षण विभाग), देहरा दून   यह कहानी तीन बच्चों की है - गुड्डु, गुड्डी और सीमा । ये अत्यन्त गरीब...

LATEST NEWS

Don`t copy text!